BiharLife StylePoliticalState

मुख्यमंत्री ने ड्रीम प्रोजेक्ट ‘गंगा उद्वह योजना’ का लिया जायजा – नवादा |

190 किमी लंबे पाइपलाइन के जरिए हथदह से पहुंचा गंगाजल

रवीन्द्र नाथ भैया |

जिले के नारदीगंज प्रखंड क्षेत्र के मोतनाजे गांव में निर्माणाधीन गंगाजल उद्वह योजना का सफल ट्रायल के बाद मंगलबार को मुख्यमंत्री नीतिश कुमार
मोतनाजे पहुंचज जायजा लिया ।
बता दें इस योजना से क्षेत्र में जल संकट का समाधान होगा। नीतीश के ड्रीम प्रोजेक्ट ‘गंगा उद्वह योजना’ का ट्रायल सफल हो गया और 190 किमी लंबे पाइपलाइन के जरिए यहां तक जल पहुंचेगा ।
गंगाजल उद्भव परियोजना का ट्रायल सफल होने के बाद ग्रामीणों में खुशी की लहर दौड़ गई।
गया और नालंदा जिले के जल संकट के समाधान के लिए ‘गंगा उद्वह परियोजना’ के तहत 190 किमी पाइपलाइन के जरिए गंगा नदी का पानी मोकामा के हथदह से नवादा तक पहुंचाने का ट्रायल सफल रहा। इस योजना के तहत गंगा जल को गया तक लाया जाएगा।
इसके पूर्व शनिवार को नवादा जिले के नारदीगंज प्रखंड स्थित मोतनाजे गांव में निर्माणाधीन गंगाजल उद्वह परियोजना का ट्रायल कराया गया था। ट्रायल पूरी तरह सफल रहा और पाइपलाइन के जरिए पटना जिले के हाथीदह से गंगा का पानी नालंदा होते हुए मोतनाजे पहुंचा था।
सीएम नीतिश ने कहा कि जुलाई महीने में परियोजना को चालू कर दिया जाएगा। इस परियोजना से आम लोगों को शुद्ध जल मुहैया कराया जाएगा। सीएम ने मोतनाजे पहुंच कर परियोजना के कार्यों के साथ-साथ क्लोरिन हाउस, वाटर ट्रीटमेंट प्लांट आदि का निरीक्षण किया एवं उपस्थित अधिकारियों से कार्यान्वित होने वाले योजनाओं के संबंध में फीडबैक प्राप्त किया। परियोजना के तहत फिल्टर हाउस, यूटिलिटी बिल्डिंग, कैरली फ्लोक्कुलेटर, केमिकल हाउस, फ्लोरिन हाउस, स्लैग बेल, वाश वाटर टैंक आदि का निर्माण कार्य पूर्ण हो गया है। इस योजना से जिले को भी जल की आपूर्ति की जाएगी जिसकी जिम्मेदारी पीएचईडी को दी गयी है.
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जल जीवन हरियाली अभियान के तहत यह योजना गया, बोधगया और राजगीर जैसे शहरों को पेयजल मुहैया कराएगी। इस स्कीम के पहले चरण का बजट 2836 करोड़ रुपये है और इससे गया को 43 एमसीएम (मिलियन क्यूबिक मीटर) और राजगीर को सात एमसीएम पानी मुहैया कराया जाएगा। दिसंबर 2019 में कैबिनेट ने इस योजना की मंजूरी दी थी।
मौके पर परियोजना से जुड़े अधिकारियों के अलावा डीएम उचित सिंह समेत जिले के विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button