BiharLife StyleState

डीएम ने सुनी कादिरगंज कपड़ा बुनकरों की समस्या – नवादा |

 रवीन्द्र नाथ भैया |

उदिता सिंह जिलाधिकारी ने अधिकारियों के साथ कादिरगंज पंचायत के वार्ड नम्बर 11 में जाकर कपड़ा बुनकरों के समस्याओं के संबंध में फिडबैक प्राप्त किया।
काफी गर्मी के बावजूद भी घंटों खड़े रहकर सभी बुनकरों से उनके समस्याओं को दूर करने के लिए फिडबैक प्राप्त किया।
जिलाधिकारी स्वयं कई घरों में जाकर सिल्क से बनाये जानेवाले हैंडलूम को नजदीक से देखा और बुनकरों से फिडबैक प्राप्त किया कि तैयार कपड़े कहां बेचते हैं, क्या मुनाफा मिलता है, और मजदूरों का मजदूरी क्या देते हैंआदि।
प्रवासी बुनकर भवन में जिलाधिकारी अपने अधिकारियों के साथ प्रचंड गर्मी के बावजूद भी घंटो उनकी समस्याओं का समाधान के लिए अडिग रहे। अधिकांश बुनकरों ने बताया कि कच्चा माल चाईवासा और भागलपुर आदि शहरों से आता है। केला सिल्क और तसर भागलपुर से, कृत्रिम सिल्क के माध्यम से भी कपड़े बनाये जाते हैं। स्थानीय लोगों ने रेशम कीट के कुक्कुन को भी लाकर दिखाया जिसके माध्यम से प्राकृतिक सिल्क जैसा तैयार की जाती है।
प्रवासी बुनकर भवन में हैंडलूम के माध्यम से ताना ,_भरना के माध्यम से बहुत ही सुन्दर सिल्क का निर्माण किया जा रहा था। स्थानीय लोगों ने सिल्क से बने हुए साड़ी, दुपट्टा, सर्ट के कपड़े आदि दिखाया जिसको देखकर जिलाधिकारी काफी खुश हुईं। कई लोगों ने उपहार के रूप में जिलाधिकारी को कपड़े भेंट करना चाह रहे थे, जिसको जिलाधिकारी ने विनम्रता से मना कर दीं।
उन्होंने कहा कि आपकी जो भी समस्याएं हैं उसके समाधान के लिए मैं कृत संकल्पित हूं। 10 दिनों के बाद कार्यालय में बुनकरों को बुलाकर उनसे फिडबैक प्राप्त करेंगे और सभी समस्याओं के समाधान का प्रयास करूंगी। स्थानीय लोगों ने बताया कि पुंजी का अभाव, बाजार की कमी, सरकार से सहायता, अद्यतन तकनीकी का ज्ञान, संस्था का सहयोग प्राप्त नहीं होना आदि कई समस्याएं हैं।
तत्काल जिलाधिकारी ने जिला उद्योग प्रबंधक पदाधिकारी को सख्त निर्देश दिया कि शीघ्र कैम्प लगाकर लोगों का सर्वे करें एवं वांछित लोगों को सरकार के द्वारा उपलब्ध करायी जा रही सभी सुविधाओं से आच्छादित करना सुनिश्चित करें।
उद्योग प्रबंधक ने बताया कि बुनकरों को पुंजी के रूप में दस-दस हजार रूपये सहायता राशि दी गयी है लेकिन स्थानीय बुनकरों ने बताया कि कुछ ही व्यक्तियों को मिला है और यह सुविधा गिने चुने व्यक्तियों को दिया जाता है। पीएमजीपीवाई योजना से सभी बुनकरों को सहायता उपलब्ध कराने का निर्देश जिला उद्योग प्रबंधक को दिया गया। एलडीएम को भी विशेष कैम्प आयोजित कर सरकार के द्वारा दी जा रही सभी योजनाओं का लाभ देने का निर्देश दिया गया।
प्रवासी बुनकर भवन का मरम्मत कराने के लिए उप विकास आयुक्त को कई महत्वपूर्ण निर्देश दिया। इस अवसर पर श्री उमेश कुमार भारती अनुमंडल पदाधिकारी नवादा सदर, श्री सत्येन्द्र प्रसाद डीपीआरओ, श्री अंजनी कुमार प्रखंड विकास पदाधिकारी नवादा सदर, राजस्व पदाधिकारी के साथ-साथ काफी संख्या में बुनकर एवं स्थानीय प्रतिनिधि मुखिया आदि उपस्थित थे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button